Sunday, September 17, 2017

आत्मविश्वास कैसे बढ़ाएं । How to increase confidence in hindi

आत्मविश्वास के बिना जिंदगी को कभी भी सफल व सुखी नहीं बनाया जा सकता है। अगर आपके दिमाग में भी यह बात चल रही है कि आत्मविश्वास कैसे बढ़ाएं तो इस लेख को शुरू से अंत तक जरूर पढ़ें। मुझे पूरा विश्वास है कि आपको यह लेख जरूर पसंद आएगी।

आत्मविश्वास बढ़ाने के निम्नलिखित तथ्य हैं -
लक्ष्य बनाएं तथा इसे छोटे - छोटे भाग में विभाजित करें - लक्ष्य हमारे जिंदगी के लिए बहुत आवश्यक है। लक्ष्य के बिना हम आत्मविश्वास को कभी भी नहीं बढ़ा सकते। जब हम लक्ष्य बनाकर उसे छोटे - छोटे भाग में विभाजित कर लेते हैं तो हमारे अंदर यह उलझन नहीं रह जाती है कि हमें क्या करना है। जहां उलझन नहीं रहती वहां स्वाभाविक है कि हमारा आत्मविश्वास बढ़ेगा ही।
अच्छा कपड़ों का चुनाव करें व शरीर को स्वस्थ रखें - जब हम अच्छे कपड़े पहनकर घर से बाहर निकलते हैं तो हमारे अंदर खुद ही आत्मविश्वास आ जाता है क्योंकि आपके पहनावा को देखकर लोग प्रभावित होते हैं और आपसे अपनी बातें share करते हैं तथा आपकी बात सुनते भी हैं। हम अपनी बात को लोगों से सही तरीके से तभी प्रस्तुत कर पाते हैं जब हमारा शरीर स्वस्थ रहता है। इसलिए हमेशा अच्छे कपड़ों का चुनाव करें व अपना शरीर हमेशा स्वस्थ रखें।
सफल लोगों के तरीकों को अपनाएं व मन में कभी भी हीन भावना न आने दें - आजतक जितने भी व्यक्ति सफल हुए हैं , सभी का मुख्य हथियार आत्मविश्वास ही रहा है। उन लोगों ने किन तरीकों को अपनाया की उनके अंदर आत्मविश्वास आ गया , उन सभी तरीकों को अपनी डायरी में लिखें व उन्हीं तरीकों को अपनाएं जिसको सोचकर या करके आपके अंदर आत्मविश्वास आ जाए। अपनी मेहनत व लगन पर पूरा विश्वास रखें तथा दूसरे लोगों को अपने से आगे निकलते देखकर अपने अंदर हीन भावना न आने दें। अपने कार्य को पूरे उत्साह के साथ करने का प्रयास करते रहें।
अच्छे मित्र का चुनाव करें जो आपको प्रोत्साहित करें - जब भी कोई समस्या आती है और आपका दिमाग उस समस्या को नहीं सुलझा पाता है तो इस वक्त मित्र ही आपके काम आते हैं , जिसके साथ मिलकर आप उस समस्या को सुलझा सकते हैं। मित्र ऐसे हों जो जब आप विपरीत स्थिति में हों तो आपका साथ दें तथा विपरीत स्थिति से निकलने का रास्ता बताएं। अच्छे व सच्चे मित्र के साथ रहकर आपका आत्मविश्वास बढ़ता है।
काम को टालें नहीं व बहाना बनाना छोड़ें - काम को टालने से व बहाना बनाने से अपने ऊपर दबाव बढ़ता है जिसके कारण हमारे आत्मविश्वास में कमी आ जाती है। इसलिए अगर आप अपना आत्मविश्वास बढ़ाना चाहते हैं तो काम को टालना व बहाना बनाना छोड़ें।
वर्तमान में जिएं व हमेशा खुश रहें - भूतकाल से सीखें व भविष्य की योजना बनाएं लेकिन हमेशा वर्तमान में जिएं व खुश रहें , इससे हमारा आत्मविश्वास बढ़ता है।
दृढ़ संकल्प करें व अपना निर्णय स्वयं लें - जब तक आप अपने कार्य को पूरा करने का दृढ़ संकल्प नहीं लेंगे तथा स्वयं निर्णय नहीं लेंगे तब तक आपके जीवन में कभी भी सफलता नहीं आ सकती। जब तक सफलता मिलने का आस नहीं रहता तब तक हमारे अंदर आत्मविश्वास नहीं आ सकता। इसलिए अपने कार्य को करने का
दृढ़ संकल्प करें व अपना निर्णय स्वयं लें।
दोस्तों कैसा लगा ये लेख अपने comment के माध्यम से जरूर बताएं।
                                                                                                        धन्यवाद.......

No comments:

Post a Comment