Wednesday, September 6, 2017

लक्ष्य को प्राप्त कैसे करें

दोस्तों अगर आपके दिमाग में भी यह प्रश्न चल रहा है की लक्ष्य को पूरा कैसे करें तो इस पोस्ट को शुरू से अंत तक पढ़े। मुझे पूरा विश्वास है की इस पोस्ट को पढ़ने के बाद आपके सवाल का जवाब जरूर मिल जाएगा।

लक्ष्य क्यों बनाएं - दोस्तों अगर यह कहा जाये की बिना लक्ष्य के जिंदगी उस रांहगीर के सामान है जो चल तो रहा है लेकिन उसको यह नहीं मालूम  है की उसे जाना कहां है, अतिश्योक्ति नहीं होगी। बिना लक्ष्य के जिंदगी जानवरों से भी बदतर है। अतः दोस्तों अगर आप भी चाहते हैं की आपका भी जिंदगी सफल व खुशहाल हो तो लक्ष्य जरूर बनाएं। आज तक जितने भी लोग सफल हुए हैं , उन्होंने अपनी जिंदगी का लक्ष्य जरूर बनाया। चाहे वह मुकेश अम्बानी हो , अक्षय कुमार हो या उदित नारायण।
लक्ष्य को पूरा करने के निम्नलिखित तथ्य हैं -
सेहतमंद रहिए - दोस्तों जब तक हमारा शरीर स्वस्थ नहीं रहेगा तब तक हम किसी भी लक्ष्य को पूरा नहीं कर पाएंगे क्योंकि जब तक हमारा शरीर स्वस्थ नहीं रहेगा तब तक हमारा दिमाग भी सही तरीके से काम नहीं करेगा। दिमाग का कार्य होता है सोचना और शरीर का कार्य होता है श्रम करना। हम सब जानते  हैं की बिना सोचे और श्रम किये बिना हम लक्ष्य को प्राप्त नहीं कर सकते। लक्ष्य प्राप्त करने के लिए हमें सेहतमंद होना बहुत जरुरी है। अतः सबसे पहले हमें अपना सेहत बनाना चाहिए।
योजना बनाएं - लक्ष्य प्राप्त करने के लिए योजना का भी महत्वपूर्ण योगदान होता है। योजना बनाने से हमारा लक्ष्य व्यवस्थित  हो जाता है। जब हमारा लक्ष्य व्यवस्थित नहीं होगा तो हमारे दिमाग में इस बात की हमेशा चिंता रहेगी कि लक्ष्य के किस भाग को पहले पूरा करें और किसे बाद में। हम सब जानते हैं की जब तक दिमाग में चिंता रहेगी तब तक हम अपने लक्ष्य को प्राप्त नहीं कर सकते। अगर आप चाहते हैं की आपका दिमाग चिंतामुक्त होकर तरोताजा रहे तो योजना बनाएं।
दिमाग को एकाग्रचित्त रखें - लक्ष्य प्राप्त करने का सबसे महत्वपूर्ण अंग एकाग्रता ही है। एकाग्रता के बिना व्यक्ति लक्ष्य को कभी भी प्राप्त नहीं कर पाएगा क्योंकि एकाग्रता नहीं होने से व्यक्ति जल्दी ऊब जाता है। जब व्यक्ति ऊब जाएगा तो उसका मन उसके लक्ष्य से भटकने लगेगा। आप यह भी जानते होंगे की ऊबना हमारी कितनी बड़ी कमजोरी है। अतः आप अपना लक्ष्य प्राप्त करना चाहते हैं तो अपने दिमाग को हमेशा एकाग्रचित्त रखें।
 संकल्प लें - आप अपने लक्ष्य को पूरा करने के लिए यह संकल्प लें कि जब तक आप अपने लक्ष्य को प्राप्त नहीं कर लेंगे तब तक आप पूरी ईमानदारी और लगन के साथ मेहनत करेंगे। चाहे कुछ भी हो जाए लेकिन आप अपने संकल्प को नहीं तोड़ेंगे। जब  आप संकल्प ले लेते हैं तो आप के अंदर जोश और ऊर्जा भर जाता है , जो आपके लक्ष्यपूर्ति के लिए  सहायक होता है।
धैर्य बनाए रखें - जब आप अपना लक्ष्य बना  लेते हैं और पूरी लगन , मेहनत और ईमानदारी के साथ पूरा भी करने लगते हैं। कुछ दिन के बाद हमारे दिमाग में यह विचार आता है की अब लक्ष्य को पूरा करने में मजा नहीं आ रहा है, क्यों न अब दूसरा लक्ष्य बनाएं जिसमें मजा आये। दोस्तों ऐसे विचार को अपने दिमाग से हटा दीजिए और अपने दिमाग को अपने लक्ष्य पर लगाइए। बिना धैर्य  आदमी बिखर जाता है। धैर्य ही व्यक्ति का सच्चा साथी होता है।
प्रयास करते रहिए -लक्ष्य को पूरा करने में हमें कितनी बार असफलता का मुँह देखना पड़ता है। असफलता से आप घबराइए मत बल्कि हमेशा प्रयास करते रहिए।
दोस्तों कैसा लगा ये पोस्ट , हमें अपने comment के माध्यम से जरूर बताएं। इस पोस्ट से सम्बंधित जो भी सवाल आप पूछना चाहते पूछें। मुझे आपके सवाल का जवाब देकर खुशी होगी।
                                                                                                            धन्यवाद  

No comments:

Post a Comment